Scholarship Portal (TAD Incentive Schemes)

Help Desk
E-mail Address (For Online Form Related Quaries) : ddit.tad@rajasthan.gov.in
Contact Number : 0294 2428722 (9.00 AM to 6.00 PM)


योजना उद्देश्य पात्रता लाभार्थी को देय लाभ महत्त्वपूर्ण लिंक
ECONOMIC HELP TO TRIBAL/ SAHARIYA GIRLS FOR EDUCATION (CLASS 11 & 12)
जनजाति छात्राओं को उच्च माध्यमिक शिक्षा हेतु आर्थिक सहायता
  • राजस्थान राज्य की जनजाति छात्राये जो राजकीय विद्यालयों में नियमित छात्रा के रूप में प्रवेश लेकर अध्ययनरत है उन्हे उच्च शिक्षा हेतु प्रेरित करना।
  • राजकीय विद्यालयो में 11वी ओर 12वी में नियमित रूप से अध्ययनरत हो।
  • छात्रा राजस्थान के अनुसूचित जनजाति वर्ग से सम्बन्धित होनी चाहिए।
  • छात्रा के माता पिता/अभिभावक/संरक्षक/पति आयकर दाता न हो।
  • छात्रा राजस्थान की मूल निवासी हो ।
योजना के अनुसार लाभार्थी को उसके जनाधार कार्ड में दर्ज बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से 3500 रू. (प्रतिमाह 350 रू. की दर से 10 माह तक) प्रोत्साहन राशि उपलब्ध करायी जायेगी। विस्तृत विवरण(Tribal)

विस्तृत विवरण(Sahariya)

ECONOMIC HELP TO TRIBAL (GIRLS)/ SAHARIYA (BOYS/GIRLS) STUDENTS FOR HIGHER EDUCATION (COLLEGE LEVEL)
जनजाति छात्राओं/ सहरिया छात्र-छात्राओं को उच्च शिक्षा हेतु आर्थिक सहायता (कॉलेज स्तर)
  • राजस्थान राज्य की जनजाति छात्राओ एवं सहरिया छात्र-छात्राओं को उच्च शिक्षा में अध्ययन हेतु प्रेरित करने व शिक्षा को बढावा देने हेतु आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।
  • छात्रा राजस्थान के जनजाति वर्ग से सम्बन्धित होनी चाहिए।
  • छात्रा निजी/राजकीय कॉलेज में सामान्य शिक्षा में नियमित अध्ययनरत हो।
  • छात्रा के माता पिता/अभिभावक/संरक्षक/पति आयकर दाता न हो।
  • योजना के अनुसार जनजाति छात्राओं को उनके जनाधार कार्ड में दर्ज बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से 5000 रू. (प्रतिमाह 500 रू. की दर से 10 माह तक) प्रोत्साहन राशि उपलब्ध करायी जायेगी।
  • योजना के अनुसार सहरिया छात्र / छात्राओं को उनके जनाधार कार्ड में दर्ज बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से कुल 20000/- रू. (स्टेशनरी क्रय हेतु 1000/- रू, कॉलेज फीस हेतु 2000/- रू एवं मासिक व्यय अनुदान, मकान किराया, भोजन आदि हेतु 17000/- रू.) दिये जाते है। उक्त राशि प्रतिवर्ष कॉलेज में प्रवेश देते ही आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।
विस्तृत विवरण(Tribal)

विस्तृत विवरण(Sahariya)

TALENTED BOYS SCHOLARSHIP TO FIRST CLASS TRIBAL/ SAHARIYA STUDENTS (BOARD & UNIVESITY)
बोर्ड एवं विश्वविद्यालय में प्रथम श्रेणी उत्तीर्ण जनजाति प्रतिभावान छात्र को आर्थिक सहायता
  • राजस्थान राज्य के प्रतिभावान जनजाति छात्रों को, जो राजकीय विद्यालयों/ महाविद्यालयों में नियमित छात्र के रूप में प्रवेश लेकर अध्ययनरत है, उन्हे प्रथम श्रेणी में उर्त्तीण होने हेतु प्रेरित करना।
लाभार्थी को मिलने वाली वित्तीय सहायता का विवरण बोर्ड कक्षाओं एवं विश्वविद्यालय में जो छात्र प्रथम श्रेणी से 60 प्रतिशत से उत्तीर्ण होते है उन्हे 350/- प्रतिमाह की दर से 10 माह तक प्रोत्साहन राशि का भुगतान किया जावेगा। विस्तृत विवरण(Tribal)

विस्तृत विवरण(Sahariya)

ECONOMIC HELP TO STUDENTS OF TRIBAL OF SCHEDULED AREA/ SAHARIYA PROJECT AREA FOR RESEARCH FELLOWSHIP
जनजाति छात्रों को रिसर्च फैलोशिप
  • अनुसूचित क्षेत्र एवं सहरिया के जनजाति समुदाय के अभ्यर्थियों को विद्या वाचस्पति उपाधि (P.hd ) प्राप्त करने हेतु शोध छात्रवृति प्रतिमाह रुपये 15000/- को दर से त्रेमासिक भुगतान 3 वर्ष के लिए 5,40,000/- एवं स्टेशनरी राशि रुपये 40,000/- कुल 5,80,000/- रुपये भुगतान किया जाता है
  • अनुसूचित क्षेत्र के निवासी और राजस्थान के बारां जिले (सहारिया परियोजना क्षेत्र) के शाहबाद और किशनगंज के निवासी हैं
  • अनुसूचित क्षेत्र एवं बारां जिले की शाहबाद तथा किशनगंज तहसील (सहरिया प्रोजेक्ट ऐरिया) के जनजाति छात्र/छात्राएं जिन्होंने मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातकोत्तर परीक्षा 50 प्रतिशत या इससे अधिक अंकों से उत्तीर्ण की हो तथा मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय में P.hd उपाधि हेतु पंजीकृत हो ।
विस्तृत विवरण
INCENTIVE TO SAHARIA STUDENTS FOR B.Ed
सहरिया विद्यार्थियों के लिये बी.एड प्रशिक्षण हेतु आर्थिक सहायता
  • सहरिया क्षेत्र के छात्रों को बी.एड प्रशिक्षण दिलाने हेतु आर्थिक सहायता प्रदान कराना ही योजना का मूल उद्देश्य हैं ताकि सहरिया क्षेत्र के जनजाति छात्र राजकीय सेवा में अपनी भागीदारी रख सके इसके लिये इन छात्रों को छात्रावास शुःल्क, छात्रवृति (स्टाईफण्ड) शिक्षण शुल्क एवं स्टेश्नरी के रूप में आर्थिक सहायता दिये जाने का प्रावधान रखा गया हैं।
  • योजना का लाभ 10 माह तक के लिये ही देय होगा।
  • सहरिया जनजाति के छात्र/छात्राये जो स्नातक उत्तीर्ण कर बी.एड प्रशिक्षण ले रहे है |
लाभार्थी को मिलने वाली वित्तीय सहायता का विवरण सहरिया बी.एड प्रशिक्षणार्थियों को काॅलेज फीस एवं पुस्तकें क्रय हेतु 26000रू., मकान किराया व भोजन पर व्यय हेतु 32000रू., एवं पौशाक हेतु 2000 रू. दिये जाते है। विस्तृत विवरण

INCENTIVE TO SAHARIA STUDENTS FOR BSTC
सहरिया छात्रों के लिये बी.एस.टी.सी. प्रशिक्षण हेतु आर्थिक सहायता
  • सहरिया जनजाति के छात्र/छात्राऐं जो की सीनियर सैकेण्डरी परीक्षा उत्तीर्ण कर बीएसटीसी का 2 वर्षीय प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं उन छात्र/छात्राओं को प्रशिक्षण हेतु आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाना हैं ताकि सहरिया जनजाति के छात्र/छात्राऐं प्रशिक्षण को पुरा कर सके।
  • बीएसटीसी का दो वर्षीय प्रशिक्षण प्राप्त करने को प्रेरित करने के उद्देश्य से इस योजना को प्रारम्भ किया गया हैं, ताकि सहरिया युवक युवती अन्य के समकक्ष आ सके। इस योजना में प्राचार्य बीएसटीसी से प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे सहरिया छात्र/छात्राओं की सूची प्राप्त कर कार्यालय से स्वीकृति जारी कर प्राचार्य बीएसटीसी को राशि वितरित करने हेतु उपलब्ध करवाई जायेगी।
प्रथम वर्ष में 15000/ एवं द्वितीय वर्ष में 25000/ विस्तृत विवरण

INCENTIVE TO SAHARIYA NURSING STUDENTS
सहरिया महिला नर्सिंग प्रशिक्षण योजना
  • सहरिया जनजाति के लोगो के लिये सहरिया एकीकृत विकास योजना अन्तर्गत बारां जिले में सहरिया महिलाऐं जो नसिंग प्रशिक्षण प्राप्त करती हैं उनको 1000/- प्रतिमाह (9 माह तक प्रतिवर्ष) आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।
1000/- प्रतिमाह (9 माह तक प्रतिवर्ष) आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। विस्तृत विवरण

SAHARIYA EDUCATIONAL MOTIVATION SCHEME FOR REGULAR STUDIES
  • सहरिया जनजाति के ऐसे परिवार जो पढाई का खर्चा उठाने में सक्षम नहीं हैं तथा इस कारण अपने बच्चों को पढाते नही है उन सहरिया परिवारों के छात्र/छात्राओं को राज्य सरकार के आदेशानुसार स्टेशनरी हेतु आर्थिक सहायता प्रदान करना।
  • छात्र/छात्रा राजस्थान के बारां जिले की जनजाति सहरिया वर्ग से संबंधित होना चाहिए।
  • छात्र/छात्रा राजकीय विद्यालय में नियमित अध्ययनरत होना चाहिए।
  • छात्र/छात्रा के माता/पिता/अभिभावक/संरक्षक/आयकर दाता न हो।
  • जो छात्र/छात्रा सरकार द्वारा संचालित आवासीय विद्यालय/आश्रम छात्रावास में निवासरत रहकर अध्ययन कर रही है। उन्हें उक्त योजना में लाभ देय नहीं होगा।
  • वैद्य भामाषाह कार्ड एवं आधार होना चाहिए।
  • छात्र/छात्रा राजस्थान की मूल निवासी होना चाहिए।
योजना के अनुसार लाभार्थी को उसके जनाधार कार्ड में दर्ज बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से 2500 रू. प्रोत्साहन राशि उपलब्ध करायी जायेगी। विस्तृत विवरण