slider1
slider1
होम

राजस संघ में आपका स्वागत है

राजस्थान के दक्षिण भाग में रह रहे आदिवासियों के विकास एवं कल्याण के लिये वर्ष 1976 में सहकारी अधिनियम 1965 के अधीनएक राज्य स्तरीय शीर्ष संस्था के रूप में पंजीकृत कराकर राजससंघ की स्थापना की गयी। एक वर्ष बाद ही सहरिया परियोजना क्षेत्र को भी कार्यक्षेत्र में सम्मिलित किया गया। जनजाति उपयोजना क्षेत्र के उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाडा, प्रतापगढ, सिरोही जिले की 39 एवं बारां जिले में सहरिया क्षेेत्र की 2 पंचायत समितियों सहित  कुल 41 पंचायत समितियाँं, में राजससंघ अपने उद्धेश्यों की पूर्ति के लिये कार्यरत है ।

होम

हमारे बारे में

राजस्थान के दक्षिण भाग में रह रहे आदिवासियों के विकास एवं कल्याण के लिये वर्ष 1976 में सहकारी अधिनियम 1965 के अधीनएक राज्य स्तरीय शीर्ष संस्था के रूप में पंजीकृत कराकर राजससंघ की स्थापना की गयी।

अधिक पढ़ें

राजससंघ की स्थापना

राजस्थान के दक्षिण भाग में रह रहे आदिवासियों के विकास एवं कल्याण के लिये वर्ष 1976 में सहकारी

अधिक पढ़ें

विभागीय योजनाएं

मत्स्य योजनाऐं 

जनजाति स्वरोजगार योजना 

अधिक पढ़ें

गतिविधियां

व्यावसायिक गतिविधियां 

लघु वन उपज गतिविधि

सम्बंधित लिंक्स

हेल्पलाइन (कौशल विकास)

अधिक जानकारी के लिए कृपया संपर्क करें

98989 89898
9.00 बजे से 6.00 बजे