व्यावसायिक प्रशिक्षण

कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम
  • अनुसूचित क्षेत्र में जनजाति वर्ग के लिये रोजगार सृजन एवं आजीविका के अवसर बढाने के उद्देश्य से जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग द्वारा राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम के माध्यम से प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है।
  • अनुसूचित जनजाति अभ्यार्थियों को कौशल प्रशिक्षण प्रदान करने के उपरान्त 50 % को रोजगार के अवसर भी प्रदान किये जाने का भी प्रावधान किया गया है।
  • एम.ओ.यू. के अन्तर्गत 2 वर्ष में 6381 पात्र लाभार्थियो को प्रशिक्षण प्रदान करने के उपरान्त 50% को रोजगार के अवसर प्रदान करने का लक्ष्य प्रदान किया गया है । जिसके विरुद्ध माह दिसम्बर ,16 तक 6259 प्रशिक्षणार्थियो को प्रशिक्षण दिया जा चुका है । विभाग द्वारा उक्त योजना/प्रशिक्षण का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार किया जा रहा है, ताकि जनजाति अभ्यार्थियों को मोब्लाईज कर योजना/प्रशिक्षण से जोडा जा सके।
  • राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम के अतिरिक्त अन्य प्रतिष्ठित संस्थाओं IL&FS ( Infrastructure leasing and financial services) एवं राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम की भागीदारी से Automated Driver training, Testing and skill institute के माध्यम से भी अनुसूचित जनजाति के युवाओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा हैं।
 
राजस्थान कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम (माह मई,2016 से जून, 2016 का कैलेण्डर)
राजस्थान कौशल विकास प्रशिक्षण प्रगति रिपोर्ट
राजस्थान कौशल विकास प्रशिक्षण विवरणिका
कौशल विकास केन्द्र आईएल एण्ड एफएस, अजमेर पर प्रशिक्षण के संबंध में।
कौशल विकास केन्द्र सीसीओई, जोधपुर पर प्रशिक्षण के संबंध में।
कौशल विकास केन्द्रों की सूची।