A- A A+
 
 
  
 
 
जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग में आपका स्वागत है
भारतीय संविधान में जनजाति विकास के लिये भारतीय संविधान में विशेष प्रावधान है।  भारतीय संविधान की अनुसूची 5 में अनुसूचित जनजातियों एवं अनुसूचित क्षेत्रों के प्रशासन और नियंत्रण हेतु राज्य की कार्यपालिका की शक्तियों का विस्तार किया गया है, इन्ही शक्तियों के आधार पर राजस्थान में जनजाति समुदाय के समग्र विकास हेतु राज्य सरकार द्वारा वर्ष 1975 में जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग की स्थापना की गयी।
विभाग के उद्धेश्य -> अनुसूचित क्षेत्र का सर्वागीण विकास, जनजातियों का आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक एवं बौद्धिक विकास, जनजाति विकास की विभिन्न योजनाओं का निर्माण, समन्वय, नियंत्रण एवं निर्देशन, जनजाति बाहुल्य क्षेत्रों में प्रशासन के स्तर को अन्य क्षेत्रों के समकक्ष लाना एवं जनजाति वर्ग के जीवन स्तर का उन्नयन।
Read more
 
श्रीमती वसुंधरा राजे
माननीया मुख्यमंत्री,
राजस्थान
 
श्री नन्द लाल मीणा
माननीय मंत्री
जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग, राजस्थान
 
नोडल अधिकारी: श्री गिरिराज कुमार कतीरिया
एसीपी (उपनिदेशक)
फोन नं.: 0294 2428722
ईमेल: This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.
जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग
1, सहेली मार्ग, चेतक सर्कल, उदयपुर (राज.)
फोन: 0294 2428721-24 फैक्स: 0294 2428721
ईमेल: This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. , वेबसाइट: www.tad.rajasthan.gov.in
अंतिम अपडेट तिथि : 24-07-2015
आगंतुक Free Counter
गोपनीयता नीति | अस्वीक्रति | इस्तेमाल की शर्तें | साइटमैप | हमसे संपर्क करें